प्यार की एक छोटी सी कहानी

काव्या की आँखों में एक खास बात थी, जिसने उसे सबसे अलग बनाया था। वह हमेशा खुली आसमान में उड़ने की कोशिश करने वाली लड़की थी, और वह खुद को उस आसमान का हिस्सा मानती थी। उसका दिल गीतों की तरह गूंजता था, और उसकी मुस्कान सबके दिलों को छू जाती थी।

विवेक एक सामान्य सी जिंदगी जी रहा था। उसकी आँखों में ख्वाब थे, लेकिन वह उन्हें हमेशा दिल में छिपाकर रखता रहता था। उसकी नजरें काव्या पर पड़ी और उसकी दुनिया बदल गई। उसके दिल में उसके लिए एक खास जगह बन गई, जिसकी उसने कभी सोची नहीं थी।

एक दिन, काव्या और विवेक की मुलाकात हुई। वे सामने आए और एक दूसरे की आँखों में देखकर सब कुछ भूल गए। उनकी बातों में वो मिठास थी, जो उन्होंने किसी और में कभी नहीं देखी थी।

समय बितते-बितते, उनका दिल एक-दूसरे की ओर बढ़ने लगा। काव्या के लिए विवेक की मुस्कान ही उसकी खुशियों का कारण बन गई थी, और विवेक के लिए काव्या की आँखों में छुपी बातों की मगज़ीन थी।

एक दिन, विवेक ने अपने दिल की बात काव्या से कह दी। “काव्या, मैं तुमसे प्यार करता हूँ।” काव्या थोड़ी सी हैरानी में थी, लेकिन उसने बिना किसी रुकावट के उसकी आँखों में देख लिया कि विवेक उसके दिल में कैसे बस चुका है।

उनका प्यार दिनों-दिन बढ़ता गया, और वे एक-दूसरे के बिना जीने की सोचकर डर गए। उन्होंने अपने दिल की बात अपने परिवार से भी कह दी, लेकिन वह सब मानने को तैयार नहीं थे।

एक दिन, काव्या की माँ ने उसे एक पत्र दिया। उस पत्र में उन्होंने लिखा था, “काव्या, प्यार कभी आसमान में उड़ने जैसा होता है, लेकिन हमें कभी भी अपने पैरों पर खड़ा होकर भी देखना चाहिए।” काव्या ने अपनी माँ की बातों पर गौर किया और उसने अपने दिल की बात विवेक से साझा की।

विवेक थोड़ी देर सोचने के बाद बोले, “काव्या, मैं तुमसे बेहद प्यार करता हूँ और मैं तैयार हूँ तुम्हारे साथ अपने जिंदगी की सारी मोहब्बतें साझा करने के लिए।”

काव्या की आँखों में खुशी की आँसू थे, और उसने विवेक की आँखों में उसके लिए वही ख्वाब देखे जो उसने हमेशा सोचा था।

इस तरह, काव्या और विवेक की प्यार भरी कहानी एक नई शुरुआत ली। उनके प्यार ने उन्हें एक-दूसरे के साथ अपने जीवन की सबसे ख़ास मोमेंट्स को जीने का मौका दिया।

समापन

इस छोटी सी कहानी में, प्यार की मिठास और उसकी खोज को दिखाने की कोशिश की गई है। काव्या और विवेक की मुलाकात से लेकर उनके प्यार की मंजिल तक की यात्रा इस कहानी में दर्शाई गई है। यह एक ऐसी कहानी है जिसमें प्यार और आशिकी के भावों को साहित्यिक रूप में प्रकट किया गया है।

Leave a Comment